×

‘कांग्रेस के समय कश्मीर में होते थे प्रदर्शन, बंगाल में बोले शाह- Pok लेकर रहेंगे

Lok Sabha Election: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को सबसे पहले पश्चिम बंगाल के उलुबेरिया में सार्वजनिक बैठक को संबोधित किया। उसके बाद शाह ने हुगली में भी चुनावी सभा को संबोधित किया।

Viren Singh
Published on: 15 May 2024 8:28 AM GMT (Updated on: 15 May 2024 9:09 AM GMT)
Lok Sabha Election
X
बंगाल में चुनावी सभा को संबोधित करते अमित शाह (सोशल मीडिया) 

Lok Sabha Election 2024: पश्चिम बंगाल की लोकसभा की 42 सीटों में से अधिक से अधिक सीटों पर भगवा परचम फहराने और टीएमसी अभेद्य किला को भेदने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अपने कंधों पर जिम्मेदारी उठा ली है। वह लगातार लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर बंगाल में भाजपा के समर्थन में चुनावी रैलियां कर रहे हैं। अभी एक ही दिन नहीं बीता कि अमित शाह फिर बंगाल में पहुंच गए और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और टीएमसी पर कड़ा हमला बोला। शाह ने चुनावी रैली में कश्मीर और पाक अधिकृत कश्मीर का जिक्र करते हुए इंडिया गठबंधन पर तीखे बाण चलाए।

पीओके में हो रहा विरोध, यह मोदी का प्रभाव

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को सबसे पहले पश्चिम बंगाल के उलुबेरिया में सार्वजनिक बैठक को संबोधित किया। उसके बाद शाह हुगली पहुंचे और यहां पर एक भाजपा के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित किया। इन दोनों ही चुनावी रैलियों में अमित शाह के निशान पर ममता सरकार और उनके भजीते अभिषेक बनर्जी रहे। अमित शाह ने पीओके के मौजूदा हालत पर जिक्र करते हुए कहा कि जब कांग्रेस और उसके सहयोगियों की सरकारें थीं आज इंडिया गठबंधन है, तब कश्मीर में प्रदर्शन होता है, आज केंद्र की सस्ता पर भाजपा की सरकार है तो पीओके में प्रदर्शन हो रहे हैं। यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रभाव की वजह से हुआ है।

पीओके लेकर रहूंगा

उन्होंने कहा कि पहले के नारे आजादी, पत्थरबाजी जैसी चीजें हमारे यहां से होती थीं। अब यह सब पीओके में होता है। राहुल गांधी, आपको डरना है तो डरते रहिए, ममता बनर्जी आपको डरना है तो डरते रहिए, लेकिन मैं आज श्रीरामपुर की धरती से कहता हूं कि ये POK भारत का है और हम उसे लेकर रहेंगे।

ये कहते थे 370 मत हटाओ

जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा को हटाने का जिक्र करते हुए शाह ने कहा कि ममता बनर्जी, कांग्रेस-सिंडिकेट कहती है कि धारा 370 को मत हटाओ। मैंने संसद में पूछा कि क्यों न हटाएं तो उन्होंने कहा कि खून की नदियां बह जाएंगी। 5 साल हो गए खून कि नदियां छोड़ो किसी की कंकड़ चलाने की हिम्मत नहीं है। टीएमसी ने द्वारा उपराष्ट्रपति द्वारा मजाक उड़ाने की मामले पर भी शाह ने ममता पर तंज कसा और कहा कि ममता के 'प्रतिनिधि' और टीएमसी नेता कल्याण बनर्जी ने उपराष्ट्रपति का मजाक उड़ाकर देश के एक उच्च संवैधानिक पद का अपमान किया है और यह शर्मनाक मामला है।

टीएमसी ने अपने नारे को उलटा कर दिया

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि ममता बनर्जी 'मां, माटी, मानुष' के नारे के साथ सत्ता में आईं, लेकिन यह नारा अब खो गया है। नया नारा 'मुल्ला, मौलवी, मदरसा' हो गया है। सरकार इसको अपना आधार बनाए हुए है। शाह ने ममता सरकार ने पूछा कि 'दुर्गा विसर्जन' की अनुमति देने से इनकार कर दिया लेकिन रमज़ान में मुस्लिम कर्मचारियों को छुट्टी क्यों दी?

बंगाल के विकास का लगाया अनदेखी आरोप

उन्होंने कहा कि सोनिया-मनमोहन सरकार ने बंगाल के विकास के लिए 10 साल में सिर्फ 2 लाख करोड़ रुपये दिए। मगर जब से केंद्रीय की सत्ता में भाजपा की सरकार आई बंगाल के विकास के लिए भारी भरकम निवेश किया हया है। बीते 10 सालों में मोदी सरकार में बंगाल के विकास के लिए 9 लाख 25 हजार करोड़ रुपए दिये हैं।

Viren Singh

Viren Singh

पत्रकारिता क्षेत्र में काम करते हुए 4 साल से अधिक समय हो गया है। इस दौरान टीवी व एजेंसी की पत्रकारिता का अनुभव लेते हुए अब डिजिटल मीडिया में काम कर रहा हूँ। वैसे तो सुई से लेकर हवाई जहाज की खबरें लिख सकता हूं। लेकिन राजनीति, खेल और बिजनेस को कवर करना अच्छा लगता है। वर्तमान में Newstrack.com से जुड़ा हूं और यहां पर व्यापार जगत की खबरें कवर करता हूं। मैंने पत्रकारिता की पढ़ाई मध्य प्रदेश के माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्विविद्यालय से की है, यहां से मास्टर किया है।

Next Story